संदेश

अगस्त 4, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

वर्तमान की सोच आगे का भविष्य। जानिए कैसे ?

चित्र
इस आर्टिकल को पूरा पढ़ कर अपने जीवन में उतारने की कोशिश करें। हम हमारी जिंदगी का सफर करते-करते अनजाने में बहुत सारी गलतियां करते रहते हैं। आज मैं उन्हीं गलतियों का थोड़ा सा आपको संकेत दूंगा, आप थोड़ा सा अपने सफर पर ध्यान देंगे तो कुछ कठिनाइयों से बच सकते हैं। थोड़ा सा आप सोचेंगे तो आपको यह भी समझ में आएगा कि यह संसार और यह शरीर यह दोनों हमारे नहीं है, यहां पर किसी भी चीज पर हमारा हक है, हमेशा के लिए स्थिर नहीं है; इसलिए किसी भी चीज पर आत्मिक मोहर करना उसको आत्मा से अपनी मानना यह सिर्फ एक सोच और मन को शांत करने वाली बात है। बाकी यहां पर ना तो किसी का हुआ है ना कभी किसी का होगा हा जबतक हमारे शरीर में प्राण है जब तक हमें सुविधाए चाहिए जिसको पाने के लिए अच्छे कर्म करना अति आवश्यक हैं। आप आज के समय में अपने ही गांव में देखिए 100 साल पहले जो लोग सोचते थे कि यह मेरा है, यह जमीन मेरी है या आप उनकी कहानियों को सुनते होंगे, अन्य तरह के किस्से सुनते होंगे या और कहीं से भी आप देखते होंगे मगर आज वह लोग इस धरती पर नहीं है उनके शरीर का अस्तित्व यहां से खत्म हो चुका है। मैं इस छोटी सी बात को समझाना चा