सरकार क्या कर रही है और हमें क्या करना चाहिए।

 हम चलते-चलते सारे नियमों को भूल जाते हैं। इसका मतलब हमारे ऊपर हमारी देखरेख और हमें गाइड करने वाला हमें चाहिए, हम अपने दमपर रह हीं नहीं सकते। इस वीडियो को देखकर आपको पता चलेगा कि हम एक तरफ कोरोना का टीका लगा रहे हैं; दूसरी तरफ किसी भी नियम को नहीं मान रहे हैं।

 हम सरकार पर अनेकों तरह की टिप्पणियां कर डालते हैं। कि सरकार ने यह नहीं किया, वह सुविधा नहीं दी और हम क्या करते हैं।

 हम यह देख नहीं पाते हमारा भी कर्तव्य बनता है, समाज में सभ्यता बनाए रखने का वह हम करते नहीं हैं, सिर्फ सरकार पर टिप्पणियां करते रहते हैं।


अब बात आती है सरकार ने क्या किया:- तो सरकार तो अपना काम सही ढंग से कर रही है। कोरोनावायरस में तरह-तरह की सुविधाएं हमें प्रदान करवाई, राशन की व्यवस्था की, कोरोना का डोज हमें दे ही रही है, ₹2000 हर 4 महीने से किसान के अकाउंट में आ रहे हैं, हर घर में फ्री गेस कनेक्शन की सुविधा उपलब्ध करवाई, अनेकों तरह की योजना चला रखी हैं और उन्हें सही ढंग से समय-समय पर अपडेट भी किया जाता है। और इन योजनाओं का लाभ भी हमें मिलता है और भी अनेकों तरह की सुविधाएं हमें सरकार दे रही है जिसका जिक्र हम भी हमारी वेबसाइट पर करते रहते हैं। इन योजनाओं को चलाने के लिए कितने रुपए खर्च हो रहे हैं क्या कभी हमने इसके बारे में सोचा है सिर्फ हम महंगाई को लेकर सरकार पर आवाज उठा देते हैं।


अभी तक केंद्र सरकार आने के बाद हमने किसी भी तरह का घोटाला होने की बात नहीं सुनी अगर आपने सुनी हो तो हमें बताएं। 

अब बात आती है महंगाई पर सवाल उठाने की तो महंगाई क्यों बढ़ रही है, इस कारण को जानना हमारा कर्तव्य बनता है, उसके बाद उस पर टिप्पणी करना भी हमारा कर्तव्य बनता है। जो सही है, वह सही है और जो गलत है, वह गलत है आज के समय में डरने की आवश्यकता नहीं खुलकर सामने आ सकते हो।

हमें खुद को समझना है इस चीज को कि हमें क्या करना है; अगर सरकार कुछ गलतियां कर रही है तो उन पर टिप्पणियां करना भी हमारा कर्तव्य बनता है, टिप्पणियां करने कि हमें आजादी भी है, और टिप्पणियां करनी भी चाहिए। मगर इसके लिए पहले हमें पूख्ता जानकारी की आवश्यक्ता होती है।

 हमारी संख्या ज्यादा है टीके कम है जैसे-जैसे टिके आएंगे वैसे-वैसे हमें पता चलता रहेगा और धीरे-धीरे हम सबको टीके लग जाएंगे।
दिनांक-06-अगस्त-2021 कोरोना वैक्सीन लेने हेतु, ग्राम-ताखलसर

कोरोना वैक्सीन रजिस्ट्रेशन के लिए यहां क्लिक करें।

 मैं वहां पहुंचा परिवार मेरे साथ था मगर इतनी भीड़ देखकर मैंने छोटा सा वीडियो लिया और वहां से निकल गया। क्योंकि इस भीड़ में रुकना ठीक नहीं था। वहां हमें बताया गया कि यहां सिर्फ 200 डोज (वैक्सिंन) आने वाले हैं जिसमें से 100 टिके जो 45 के ऊपर वाले हैं, उनके हैं और जो 18 से 45 के बीच में है उनके लिए 100 टीके उपलब्ध हैं। मुझे वहां यह जानकारी मिली मैं वहां इस भीड़ को देखकर तुरंत अपने परिवार के साथ घर के लिए रवाना हो गया।


हमारा पोस्ट पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद, इसके बारे में आप क्या सोचते हैं हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं आपका दिन शुभ हो।

Previous
Next Post »