मेडिटेशन क्या हैं ? और मेडिटेशन कैसे करें।

 Meditation Kya Hai?

मेडिटेशन का अर्थ है अपने मन को किसी एक जगह, विचार, या कार्य पर केंद्रित करना। हमारा मन एक ही समय में कई तरह की बातें सोचता है। ऐसे में मन की शांति भंग हो जाती है।

Meditation करने से हमें आतंरिक रूप से शांति का अनुभव होता है। कुछ वक़्त के लिए हमारे सभी तनाव और चिंता दूर हो जाते है और इसका हमारे ऊपर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

Meditation Ke Prakar

Meditation कई तरह से किया जा सकता है। आप घर पर बैठकर भी मेडिटेशन कर सकते है, सोते हुए भी कर सकते है और चलते-चलते भी कर सकते है। मेडिटेशन के 5 मुख्य प्रकार इस तरह है।

Deep Meditation: डीप मेडिटेशन का अर्थ है कि आपका मन जागरूकता की सतह से सुक्ष्म जागरूकता को होते हुए, अंतः बिना किसी जागरूकता की स्तिथि में चला जाएगा। आपका मन हज़ारो विचारों को पीछे छोड़ते हुए बिलकुल गहराई तक पहुंच जाएगा जहाँ किसी भी तरह का कोई विचार उस तक नहीं पहुंच सकेगा।

Third Eye Meditation: तृतीय नेत्र ध्यान आपके मन को एकाग्र करने में सबसे अधिक फायदेमंद है। इसमें आपको अपना ध्यान अपने Eyebrows के बीच स्तिथ तीसरे नेत्र पर लगाना होता है और धीरे-धीरे अपनी सांसों की गति को समझना पड़ता है।

Mindfulness Meditation: माइंडफुलनेस मेडिटेशन में आप अपने विचारों पर या अपने स्वास पर अपना ध्यान क्रेंद्रित करते है,और उनको Observe करते है। इससे आपकी एकाग्रता शक्ति में वृद्धि होती है और इसे आप कभी भी और कहीं भी Practice कर सकते है।

Om Shanti Meditation: ॐ शांति मेडिटेशन में आपको अपना ध्यान एक Point Of Light पर केंद्रित करना होता है और धीरे-धीरे अपनी सभी चिंताओं को मस्तिष्क से हटाते जाना होता है। इससे शरीर को बहुत ठंडक पहुँचती है।

Mantra Meditation: मंत्र मेडिटेशन में आपका ध्यान एक शब्द या ध्वनि पर केंद्रित होता है, जैसे – ‘ॐ‘। इस शब्द का उच्चारण करते-करते आपका ध्यान पूरी तरह से आपके वातावरण में लीन हो जाता है। यह आपके जागरूकता को गहराई तक अनुभव करने की क्षमता को बढ़ाता है।

Meditation Kaise Kare ?

Meditation Kab Aur Kaise Kare और Meditation Kaise Shuru Kare ये एक बहुत ही आवश्यक सवाल है, जिसका जवाब हम आपको देते है। Meditation करने का सबसे सही वक़्त होता है अमृतवेला, यानी सुबह 4-5 बजे का समय और नुमाशम, यानि शाम के 6-7 बजे का समय, क्योंकि इस वक़्त चारो तरफ शांति रहती है और हमारा मन भी शांत रहता है।

रही बात मेडिटेशन कैसे किया जाता है की, तो वो भी हम आपको बता देते है। Dhyan करने के लिए:-

1. शांत स्थान का चुनाव करें।

Meditation किसी शांत जगह पर ही सबसे अच्छे से हो सकता है। इसलिए ऐसी जगह का चयन करें, जहाँ किसी भी तरह का शोर ना हो।

2. सही समय का चुनाव करें।

Meditation करने का वैसे तो कोई नियमित समय नहीं होता, पर अगर सुबह और शाम को मेडिटेशन किया जाए, तो ध्यान ज़्यादा बेहतर लगता है।

3. कुछ देर शांत और सीधा रहने का अभ्यास करें।

अब अपनी आँखें बंद करके शांति में बैठे। मैडिटेशन करते वक़्त आप एक Comfortable Posture में बैठिये ताकि आपको अधिक समय तक बैठने में परेशानी ना हो।

4. अब धीरे-धीरे गहरी लंबी सांस ले।

एक बार आपका मन थोड़ा शांत हो जाए फिर धीरे-धीरे गहरी सासें ले। इससे आपका Body Relax होता जाता है।

5. अब अपनी सांसों पर ध्यान केंद्रित करें।

अपना ध्यान सांस पर केंद्रित करें। Inhale और Exhale के Pattern पर ध्यान दे।

6. चेहरे पर मुस्कराहट रखें।

मेडिटेशन के अनुभव को और अच्छा बनाने के लिए चेहरे पर मुस्कान ज़रूर रखे। इसकी विधि पूरी होने के बाद आंखों को आराम से धीरे-धीरे खोले और मन में शांति का अनुभव महसूस करे।

Pregnancy Me Meditation Kaise Kare, Deep और Mindfulness Meditation Kaise Kare, इन सभी सवालों का जवाब एक यही है।

रही बात Third Eye और Om Shanti Meditation Kaise Kare, तो इसके लिए आपको एक शांत जगह ढूंढ़कर बिलकुल Relax होकर बैठना है और अपना ध्यान अपनी आँखों के बीच में लगाना है और धीरे-धीरे सभी Thoughts को अपने मस्तिष्क से निकालते जाना है।

यह भी पढ़ें डिप्रेशन से बाहर कैसे निकलें।

आप चाहे तो सोते हुए भी ध्यान लगा सकते है। Sote Hue Meditation Kaise Kare इसका तरीका है किसी शांत जगह पर लेट जाइए, अपनी आँखें बंद कीजिए और धीरे-धीरे सांस ले। गहराई से सांस लें और छोड़ें। इस बीच अगर आपके मन में किसी भी तरह का ख़याल आता है तो अपना ध्यान अपने स्वास पर केंद्रित कर ले।  या meditation मुयुजिक, वीडियो ऑन करें मैडिटेशन करते-करते ही आप सो जाएंगे।

Meditation Ke Fayde

Meditation Doctors द्वारा लगभग सभी Patients को Recommend किया जाता है। ये एक ऐसा इलाज है जिसका कोई Side Effect नहीं है। Stress, Anxiety, Heart Disease, Insomnia, किसी भी तरह की परेशानी का ये एक बहुत ही असरदायक इलाज है।

मेडिटेशन के फायदें कुछ इस तरह।

Mental और Physical Health, दोनों को स्वस्थ रखने में मेडिटेशन काफी मदद करता है।

मेडिटेशन तनाव कम करने में मदद करता है।

यह गलत लतो, जैसे Smoking, Drinking, नशा, से छुटकारा पाने में भी मदद करता है।

यह आपके Concentration Level (एकाग्रता) को बहुत अधिक बढ़ाता है और आपको काफ़ी हद तक शांत भी बनाता है।

मेडिटेशन करने से अनिंद्रा (Insomnia) की बीमारी में भी काफ़ी राहत मिलती है।

मेडिटेशन करने से दिल का दौरा पड़ने का खतरा कम हो जाता है, और Blood Pressure और Sugar भी Control में रहता है।

Conclusion

अपने जीवन में एक सकारात्मक ऊर्जा का संचार करने के लिए मेडिटेशन सबसे अच्छा माध्यम है। आपके शरीर के साथ आपका मन भी स्वस्थ और ऊर्जा से भरपूर रहेगा।

तो ये थी मेडिटेशन कैसे किया जाता है की पूरी जानकारी। उम्मीद है इस पोस्ट को पढ़कर आप समझ गए होंगे कि Meditation Kaise Karte Hain और इसके Kya Fayde Hote Hai.

अगर आप अपने दोस्तों तक भी Meditation Benefits को पहुंचाना चाहते है तो हमारे इस Post को उनके साथ ज़रूर Share कीजिये और अगर आपको हमारा ये पोस्ट पसंद आया हो, या आपके पास हमारे लिए कोई प्रश्न हो, तो उसे Comment में लिखकर हमें बताए।

Previous
Next Post »