फिटकरी के फायदें।


 सालों से हम सब के घरों में फिटकरी का इस्तेमाल होता आ रहा है। रसायन विज्ञान में इसे पोटैशियम एल्युमिनियम सल्फेट के नाम से जाना जाता है। आयुर्वेद में भी फिटकरी के बहुत से औषधीय गुण बताए गए हैं। माना जाता है कि स्किन से जुड़ी समस्याओं समेत हेल्थ प्राब्लम को फिटकरी दूर करती है।

 

फिटकरी का इस्तेमाल करे आफ्टर शेव लोशन के रूप में।

शेव करने के बाद इसे आफ्टर शेव लोशन के रूप में उपयोग करें। इसे सदियों से शेविंग उपचार के रूप में उपयोग किया जाता है, अल्म हमारी त्वचा की टोन में सुधार करता है और इसे नरम बनाता है। इसे शेविंग के कारण कट्स के मामले में खून बहने को रोकने के लिए त्वरित उपाय के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। उपयोग करने के लिए, शेव करने के बाद कुछ देर के लिए फिटकरी को रगड़ें और कुछ मिनटों के बाद ठंडे पानी से धो ले।

पानी स्वच्छ करना हो या आफ्टर शेव लोशन के लिए इस्तेमाल करना हो, फिटकरी के ये उपयोग आप में से कई लोगों ने देखे और सुने होंगे। वहीं, शायद ही आपको मालूम हो की यह पारदर्शी पत्थर जैसी दिखने वाली फिटकरी स्वास्थ्य संबंधी कई मामलों में भी कारगर है। लेख में हम आपको कुछ ऐसे ही फिटकरी के फायदे बता रहे हैं, जिनके बारे में आपने इससे पहले मुश्किल ही सुना होगा। लेख में बताए जाने वाले फिटकरी के फायदे महज घरेलू उपाय है, जो केवल समस्या में राहत दिला सकते हैं। इसे किसी समस्या का उपचार नहीं कहा जा सकता। किसी भी बीमारी का पूर्ण उपचार डॉक्टरी परामर्श पर ही निर्भर करता है।

फिटकरी एक रंगहीन रसायानिक पदार्थ है, जो एक क्रिस्टल की तरह होती है। इसका रासायनिक नाम पोटेशियम एल्यूमीनियम सल्फेट है। इसे अंग्रेजी में एलम (Alum) कहा जाता है। सामान्य से दिखने वाले इस पदार्थ में कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं। इन्हीं गुणों की मौजूदगी के कारण फिटकरी का महत्व चिकित्सा के क्षेत्र में अहम है। 

फिटकरी क्या काम आती है ?

1.फिटकरी के गुण हैं जूँ मारने में सहायक

फिटकरी पाउडर जूँ और उसके अंडो को मारने में सहायक है। इसके शक्तिशाली जीवाणुरोधी और कसैले गुण के कारण यह जूँ से निपटने के लिए एक पुराना उपाय है। फिटकरी पाउडर को पानी में मिलाएं। अब इस मिश्रण में थोड़ा सा टिया ट्री आयल मिलाएं। अब इस मिश्रण को अपने सिर पर लगाएं और 10 मिनट के लिए मसाज करें और ठंडे पानी के साथ धोएं। इसके बाद अपने बालों को शैम्पू और कंडीशन करना न भूलें। जूँ से छुटकारा पाने के लिए सप्ताह में दो दिन तक करें। इसके अलावा शैम्पू के साथ फिटकरी को मिला कर सर धो लें तो रूसी ख़त्म हो जाएगी। 

2.फिटकरी का उपयोग करें मुँहासे के लिए

फिटकरी और मुल्तानी मिट्टी के साथ इसका संयोजन मुँहासे से लड़ने और निशान हटा देने के लिए प्रभावी है।

3.दांतों के लिए फिटकरी पाउडर है लाभकारी।

दाँत – अपने दाँतों को मजबूत, सफेद बनाने के लिए और साथ ही दाँतों और मसूड़ों से खून को रोकने के लिए एक पाउडर बनायें (20 ग्राम फिटकरी पाउडर और 10 ग्राम सेंधा नमक को मिलायें)। इस पाउडर से अपने दाँतों और मसूड़ों की हर दिन मालिश करें।

4.योनि की कसावट के लिए करे फिटकरी का उपयोग

3 ग्राम पाउडर में 100 ग्राम पानी को मिला लें। इस घोल से हर दिन योनि को धो लें, कुछ दिनों में आपकी योनि में कसावट आ जाएगी।

5.मुंह के छाले ठीक करने के लिए।

फिटकरी के प्रयोग से मुंह के छाले भी दूर किए जा सकते हैं। फिटकरी का घोल मुंह के छाले या घाव में 30 सेकंड तक लगाकर रखें और फिर साफ पानी से कुल्ला करें या मुंह के धोएं ऐसा दिन मे दो-तीन बार करने से मुंह के छाले ठीक होते हैं।

6.दुर्गंध मिटाने के लिए।

 फिटकरी का प्रयोग नेचुरल डियोडेरेंट के रूप में भी किया जाता है। पसीना के कारण बगलों से आने वाली स्मेल को फिटकरी के प्रयोग से खत्म किया जा सकता है। लेकिन इसका इस्तेमाल रोज नहीं करना चाहिए।

7.यूरीन इंफेक्शन रोकने के लिए

यूरीन इंफेक्शन हो जाने पर भी फिटकरी का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है. प्रतिदिन फिटकरी के पानी से प्राइवेट पार्ट की सफाई करने से इंफेक्शन का खतरा दूर हो जाता है।

फिटकरी के और भी बहुत सारे फ़ायदे हैं जैसे की शरीर के किसी भी भाग के कटने पर खून को बहने से फिटकरी रोकती है। साथ ही फिटकरी को मिलाकर पानी से गरारे करने पर आपके गले को आराम मिलता है। फिटकरी से आप अनचाहे बाल हटा सकते हैं और साथ ही आँखों के काले धब्बे भी दूर कर सकते हैं।

फिटकरी के नुकसान।

मानव वीर्य और शुक्राणु पर फिटकरी (एल्यूमीनियम पोटेशियम सल्फेट) का प्रभाव पड़ता है। हालांकि, "इंडियन जर्नल ऑफ फिजियोलॉजी एंड फार्माकोलॉजी" 1998 में एक अध्ययन में, फिटकरी की अलग अलग एकाग्रता का शुक्राणु, गतिशीलता / मौत और वीर्य के फ्रक्टोज स्तर पर अलग-अलग प्रभाव पड़ता है। इसका उच्च एकाग्रता में उच्च प्रभाव पड़ता है।

गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान फिटकरी के सेवन के प्रतिकूल या दुष्प्रभाव की जांच के लिए कोई पर्याप्त अध्ययन नहीं है। इसलिए इसके सेवन न करने की सलाह दी जाती है। मगर ध्यान रहे फिटकरी का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर रखें।

हमने आपको यह जानकारियां कहीं से इकट्ठा करके दी है, आपको हमारी जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताएं। धन्यवाद

Previous
Next Post »