मूंग एक प्रमुख फसल है। इसका वानस्पतिक नाम विगना रेडीएटा (vigna radiata) है। इसका जन्म स्थान भारत है मूंग के दानों में 25 •/• प्रोटीन 60 •/• कार्बोहाइड्रेट 13 •/• वसा तथा अल्प मात्रा में विटामिन पाया जाता है।

अंकुरितमूंग  होने से प्रोटीन की उपलब्धता बढ़ जाती है। उदाहरण के लिए, अंकुरित होने पर, मूंग की प्रोटीन सामग्री 30 •/• तक बढ़ जाती है, अर्थात, 100 ग्राम अनप्राउट मूंग में 24.9 ग्राम प्रोटीन होता है, लेकिन अंकुरित होने पर यह 32 ग्राम तक बढ़ जाता है।

 मूंग न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होता है बल्कि यह स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद माना जाता है. मूंग की दाल भी काफी हेल्दी होती है. मूंग पाचन के लिए (Moong for Digestion), मूंग स्किन के लिए (Moong for skin) काफी फायदेमंद माना जाता हैं।

शरीर में विटामिन्स और प्रोटीन की कमी है तो इसके लिए आप मूंग का सेवन करें।

मूंग अनेक रोगों में काम करता है जैसे

कब्ज से राहत

सुस्ती को दूर भगाए

वजन कम करने में फायदेमंद

स्किन के लिए फायदेमंद

मूंग दाल है बहुत फायदेमंद

अंकुरित मूंग है बहुत फायदेमंद

अंकुरित मूंग पोषक तत्वों का खजाना होता हैं। इनमें अच्छी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। अंकुरित मुंगो में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन बी1, विटामिन बी6 और विटामिन के होता है। इनमें आयरन, पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्निशियम, फास्फोरस, मैगनीज भी काफी होता है। इसमें फाइबर, फोलेट और ओमेगा-3 फैटी एसिड भी पाया जाता है।

दालों में सबसे पौष्टिक दाल, मूंग की होती है, इसमें विटामिन ए, बी, सी और ई की भरपूर मात्रा होती है। साथ ही पौटेशियम, आयरन, कैल्शियम की मात्रा भी मूंग में बहुत होती है। इसके सेवन से शरीर में कैलोरी भी बहुत नहीं बढ़ती है। अगर अंकुरित मूंग खाएं तो शरीर में कुल 30 कैलोरी और 1 ग्राम फैट ही पहुंचता है। अंकुरित मूंग में मैग्नीशियम, कॉपर, फोलेट, राइबोफ्लेविन, विटामिन, विटामिन सी, फाइबर, पोटेशियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन, विटामिन बी -6, नियासिन, थायमिन और प्रोटीन होता है. दालों की अहमियत को देखते हुए जरूरी है कि दालें हमारे खानपान का प्रमुख हिस्सा होना चाहिए।

मूंग की दालों से अनेकों प्रकार के खाद्य पदार्थ बनाए जाते हैं इनमें से सबसे ज्यादा लोकप्रिय जैसे

मूंग दाल का हलवा, मूंग दाल की बर्फी, मूंग दाल के लड्डू, हरी मूंग के लड्डू,

 मूंग दाल की नमकीन, मूंग दाल पकौड़ी, मूंग दाल मटरी (सुवाली)

मूंग दाल के चिल्ली, मूंग दाल खिचड़ी, मूंग दाल के दही बड़े, मूंग दाल की मंगोड़ी आदि।

 


Previous
Next Post »